fci-logo
Home >> Personnel >> Rajbasha effectively implement policy and the policy to be followed in regard to bringing progression

Personnel

Rajbasha effectively implement policy and the policy to be followed in regard to bringing progression

राजभा­षा नीति को प्रभावी ढ़ंग से लागू करने तथा उसमें उत्तरोत्तर प्रगति लाने के संबंध में अपनाई जाने वाली नीति 

       भारतीय खाद्य निगम मुख्यालय के हिन्दी अनुभाग का मुख्य कार्य भारत सरकार की राजभा­षा नीति को कार्यान्वित करना तथा भारत सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष जारी हिन्दी के वार्षिक कार्यक्रम में निर्धारित लक्ष्यों की प्राप्ति सुनिश्चित करना है । इस कार्य के लिए विभागीय राजभा­षा कार्यान्वयन समिति की बैठकों में प्रगति की समीक्षा कर कमियों को दूर करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए जाते हैं इसके अतिरिक्त अधीनस्थ कार्यालयों/अनुभागों से प्राप्त तिमाही प्रगति रिपोर्टों की समीक्षा कर कमियों को दूर करने तथा आवश्यक सुधारात्मक कदम उठाने के निर्देश दिए जाते हैं । इस संबंध में भारत सरकार द्वारा निर्धारित जांच बिन्दुओं को कड़ाई से लागू कर लक्ष्यों की प्राप्ति सुनिश्चित की जाती है । अधीनस्थ कार्यालयों/प्रभागों में हिन्दी कार्यान्वयन की प्रगति की जांच पड़ताल करने के लिए समय-समय पर निरीक्षण किए जाते हैं । राजभा­षा नीति के कार्यान्वयन के संबंध में भारत सरकार की नीति प्रेरणा और प्रोत्साहन की है अतः अधिकारियों/कर्मचारियों को प्रोत्साहित करने के लिए भारत सरकार द्वारा जारी सभी प्रोत्साहन योजनाएं निगम में लागू की गई हैं । ताकि अधिक से अधिक से अधिक अधिकारियों/कर्मचारियों को हिन्दी में कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके ।

 

         राजभा­षा हिन्दी में कार्य करने के लिए अनुकूल वातावरण बनाने के वास्ते प्रत्येक वर्ष हिन्दी दिवस/सप्ताह/पखवाड़ा/मास मनाया जाता है जिसके अंतर्गत हिन्दी टिप्पण और प्रारूप लेखन, हिन्दी निबंध, हिन्दी अनुवाद, हिन्दी भाषण, हिन्दी काव्य पाठ जैसी विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित कर उत्कृ­ट प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों/कर्मचारियों को एक भव्य समारोह आयोजित कर नकद पुरस्कार, प्रमाण पत्र तथा प्रतीक चिन्ह् प्रदान किए जाते हैं ।

 

         संसदीय राजभा­षा समिति समय-समय पर निगम के विभिन्न कार्यालयों में हिन्दी प्रगति की जांच करने के लिए निरीक्षण करती है जिन कायालयों में संसदीय समिति द्वारा निरीक्षण किए जाने की संभावना रहती है उन कार्यालयों में अग्रिम रूप से  निरीक्षण प्रश्नावली भेजकर ऐहतियाती तौर पर सभी प्रकार की आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जाती है ताकि निरीक्षण के समय निगम के कार्यालयों में हिन्दी प्रगति का उज्ज्वल पक्ष प्रस्तुत किया जा सके और राजभा­षा नीति को प्रभावी ढ़ंग से लागू किया जा सके।

 

 राजभा­षा नीति कार्यान्वयन के लिए अपनाई जाने वाली विभिन्न प्रक्रियाओं का मूल्यांकन करने के लिए निर्धारित प्रणाली

1.       राजभा­षा कार्यान्वयन समिति की तिमाही बैठक में प्रगति की समीक्षा ।

2.       अधीनस्थ कार्यालयों में हिन्दी प्रगति की जांच के लिए निरीक्षण ।

3.       मुख्यालय के प्रभागों / अनुभागों में हिन्दी प्रगति की जांच के लिए निरीक्षण ।

4.       अधीनस्थ कार्यालयों एवं मुख्यालय के प्रभागों / अनुभागों की तिमाही प्रगति रिपोर्ट मंगाकर समीक्षा करना ।

5.       सभी प्रभागों द्वारा कार्यान्वयन की समीक्षा हेतु मासिक बैठकों का आयोजन ।